Thursday, April 14, 2011

बहुमंजिली इमारत के किरायेदार...

बहुमंजिली इमारत के किरायेदार...
एक ही बहुमंजिली इमारत में किराये पर रहने वाले छह लोग किसी दावत में एक साथ बैठे, तो बातचीत के दौरान पता चला कि वे सब अलग-अलग मंज़िल पर रहते हैं... कोई भी दो लोग एक जैसी रकम किराये के तौर पर नहीं देते हैं... और हां, जितनी ऊंची मंज़िल पर रहेंगे, उतना ही किराया भी ज़्यादा है...

अब ध्यान से पढ़ें...

* उन सबके नाम हैं - विक्रांत, दीपाली, फाल्गुनी, जयंत, प्रकाश, सरिता...
* उन सबके जातिनाम (सरनेम) हैं - भाटिया, दोषी, फड़के, जडेजा, पटेल, शाह...
* वे रहते हैं - 12वीं, 13वीं, 14वीं, 15वीं, 16वीं, 17वीं मंज़िल पर...
* जडेजा का घर दीपाली और भाटिया की मंज़िलों के बीच है, यानि उसके ऊपर-नीचे या नीचे-ऊपर दीपाली और भाटिया के घर हैं...
* फड़के, शाह और प्रकाश सबसे ज़्यादा किराया देने वाले नहीं हैं...
* सबसे ज़्यादा किराया 14वीं मंज़िल के किराये से 1750 रुपये ज़्यादा है...
* 15वीं मंज़िल का किराया भाटिया की तुलना में 750 रुपये ज़्यादा है, और विक्रांत की तुलना में 500 रुपये कम...
* सरिता अपने घर का किराया 4750 रुपये देती है, जो दोषी की तुलना में 1750 रुपये कम है...
* पटेल के घर का किराया विक्रांत की तुलना में 500 रुपये ज़्यादा है, और जयंत की तुलना में 1000 रुपये ज़्यादा है...
* 12वीं मंज़िल के घर का किराया 4500 रुपये है...
* शाह के घर का किराया जडेजा की तुलना में कम है...
* छह में से किसी एक के घर का किराया 5250 रुपये है...

अब आप सभी किरायेदारों के पूरे नामों के साथ-साथ यह भी बताएं कि प्रत्येक कौन-सी मंज़िल पर रहता है, और कितना किराया देता है...


बूझो तो जाने.....


0 comments:

Post a Comment

आपके कंप्यूटर की IP और अप कहा बैठे है